Wednesday, April 29, 2009

हम हैरान

जिन्हें हम समझते थे 'खास'
उन्होंने कहे दिया आप है 'आम'
बस इतनी सी थी बात
और हो गए हम हैरान!

5 comments:

  1. na sathi hai koi na humsafar hai koi..
    na hum kisi k na humara hai koi,
    par aapko dekh kar keh sakte hai,
    ki pyara sa dost humara bhi hai koi :)
    Keep It Jii

    ReplyDelete
  2. Shukriya, for nice comments.

    ReplyDelete
  3. Kyon hue hairaan
    Yehin toe hei duniya ki kamaal meaharbaan
    Na dekhte hi apni girebaan
    Na hi ban te hi kadar waalon ki kadardaan :))

    Bahot acha laga Tushar ji :) Pk

    ReplyDelete
  4. हैरानी की बात क्या.
    बात तो सीधी है
    आपकी नजर में वो हैं खास
    और उनकी नजर में आप हैं आम.

    ReplyDelete